Sunday, March 14, 2010

दिन बदल गया समय बदल गया


दिन बदल गया समय बदल गया वो प्यार और वो एहसास बदल गया
जिस तरह से वो मेरे पास थी आज हमारा उनका रिश्ता बदल गया
कभी हम दोनों एक रहा करते थे आज दूरियों से रिश्ता व विश्वास बदल गया.
दिन बदल गया और वो समय बदल गया

कभी वो मुझे आप कह कर बुलाती थी लेकिन आज मैं उनके लिए तुम हो गया
बोली बदली तेवर बदले औऱ भाषा भी बदल गई
जगह बदला शहर बदला हम बदले वो बदली आज दोनों यही कह रहे हैं
दिन बदल गया वो समय बदल गया


शायद ये आवाज मेरे दिल से निकली है आप भी इस पर अपनी राय दें

1 comment:

कृपया इस लेख पर अपनी टिप्पणी दीजिए,आभार आपका